Funny Poems in Hindi | मजेदार हिंदी कविताएँ


Funny Poems in Hindi | व्यंग्यात्मक कविताएं

इस article में हम लेकर आये है बच्चो के लिए कुछ मनोरंजक और हास्य विनोद से भरपूर मजेदार हिंदी कविताये Funny Poems in Hindi.

Funny hindi poems

पूँछ पकड़ दादा ने फेंके दो भारी से बन्दर |

दोनों जाकर गिरे धम्म से

सीधे घर के अंदर |

घर के अंदर दादी जी थी,

कसकर मारा डंडा |

बन्दर उछले, चूका डंडा,

फूटा भारी हण्डा ||

Funny Hindi Poems #2

बिल्ली मौसी चली बनारस,

लेकर झोला डंडा |

गंगा तट पर मिला उन्हें तब,

मोटा चूहा पंडा |

चूहा बोला – बिल्ली मौसी,

चलो करा दू पूजा |

मुझ सा पंडा यहाँ घाट पर,

 नहीं मिलेगा दूजा |

बिल्ली बोली – ओ पंडा जी,

भूख लगी है भारी |

पूजा नहीं, पेट पूजा की,

करो तुरंत तैयारी |

समझ गया चूहा, बिल्ली,

मौसी का पंगा जी में |

टिका चन्दन छोड़ घाट पर

कूदा गंगा जी में ||

सूर्य कुमार पांडेय 

Funny Poems in Hindi #3

सीधा अस्पताल जा पहुंचा,

भालू जब बीमार पड़ा |

मोटापे के मारे उसका,

बना हुआ था पेट घड़ा |

अस्पताल में बड़े ध्यान से,

उसका रोज इलाज हुआ |

थोड़ा मोटापन घट जाये,

सबने मांगी यही दुआ |

कई दिनों तक पड़ा रहा यों,

अस्पताल में भालू बंद |

डॉक्टर जी ने तुरंत कर दिए,

उसके आलू चीनी बंद ||

Funny Poems in Hindi #4

भालू की माँ बोली कालू

आ तुझको नहला दूँ |

लगा लगाकर साबुन बेटा ,

सारा मैल छुड़ा दूँ |

भागा भालू ज्यों ही माँ ने,

डाला ठंडा पानी ,

लगा चीखने जोर जोर से,

याद आ गयी नानी |

Funny Hindi Poems#5

बन्दर मामा बी.ए पास

दुल्हन लाये एम. ए. पास |

मामा बोले – घूंघट कर,

ममी बोली – मुझसे डर |

मै लड़की हूँ एम. ए. पास,

मेने खोदी नहीं है घास |

फिल्म देखने जाउंगी,

रोटी नहीं बनाउंगी |

बन्दर बोला – क्यों-क्यों-क्यों,

बंदरिया बोली – खों खों खों ||

संतोष कुवंर 

Funny Poems for Kids#6

अरे अरे क्या करती बकरी,

घास परायी चरती बकरी |

बकरी बकरी उधर ना जा ,

इधर चली आ , आ , आ , आ ,

वहीँ पकड़ ली जाएगी,

मै मै मै चिल्लायेगी ||

Funny Hindi Poems  #7

कितनी अच्छी कितनी प्यारी,

सब पशुओ से न्यारी गाय |

सारा दूध हमें दे देती,

आओ इसे पीला दे चाय ||


Related posts

Leave a Comment