Poem on India in Hindi | भारतवर्ष के संदर्भ में  कविताएँ 


Poem on India in Hindi | भारतवर्ष के संदर्भ में मनमोहक कविताएँ

 

Poem on India in Hindi #1

यह भारतवर्ष हमारा है,

हमको प्राणों से प्यारा है|

यह एक आलौकिक दिव्य देश,

करके ब्रह्मा, विष्णु, महेश|

यह राम कृष्ण की जन्मभूमि,

विक्रमादित्य की कर्मभूमि,

गौतम, नानक जैसे फकीर,

राणा प्रताप से शूरवीर|

बोस, तिलक, गांधी, नेहरू

आजाद भगत सिंह, राजगुरु|

सबकी आंखों का तारा है|

यह भारतवर्ष हमारा है||


Poem on India in Hindi #2

यहाँ देवता विचरण करते, इसका नियमित ध्यान करो |

देश हमारा सबसे प्यारा, बच्चो उसे प्रणाम करो |

रामकृष्ण, गौतम, नानक ने,

इस धरती पर जनम लिया |

त्याग, तपस्या और लगन से,

जन-जन का उपकार किया |

यह धरती है परम पुनिता, इस पर तुम अभिमान करो |

देश हमारा सबसे प्यारा, बच्चो इसे प्रणाम करो ||

डॉ० परशुराम शुक्ल


Poem on India in Hindi #3

 

जिसको कहते भारत माता

वही हमारा देश

जिसे स्वर्ग भी शीश झुकाता|

वह है प्यारा देश

खड़ा हिमालय सीना ताने

सच्चे वीर समान

गंगा, गोदावरी, नर्मदा

करती गौरव गान

नहीं प्रलय से भी जो हारा

वही हमारा देश ||

भानुदत्त त्रिपाठी “मधुरेश”

 

Poem on India in Hindi #4

नन्हे मुन्ने बच्चे हम सब, भारत की संतान है|

हम भविष्य है प्रिय स्वदेश के, हम ही हिंदुस्तान है|

कोई भी नादान ना समझे, शेरों के संग खेलें है|

हाथ डालकर मुंह में उनके, गिनते दांत  अकेले है|

पवन पुत्र हम हनुमान है, लव कुश जैसे वीर हैं,

सौ योजन तक मार गिराऊँ, हम राघव के तीर है |

हम भारत के सिहं सूर है, रघुनन्दन श्री राम है |

हम भविष्य है प्रिय स्वदेश के,  हम ही हिंदुस्तान है ||

विष्णुगुप्त 


Related posts

Leave a Comment