Spiritual values in life (अपनी बंद दुनिया से बाहर निकलिए)


Spiritual values in life

अपनी बंद दुनिया से बाहर निकल कर देखिए जनाब| आप खुद को जहां खड़ा पाएंगे वहीं अपनी असलियत दिखाई देंगी|

 

यह ब्रह्मांड (universe) काफी विशाल है| रात में बाहर निकलिए, light off कर दीजिए और आसमान की ओर देखिए| आपको नहीं पता कि वह कहां शुरू होता है और कहां पर खत्म होता है|

आप एक धूल के बहुत छोटे से कण (particle) के बराबर है| जो एक ग्रह (planet) पर घूम रहा है आपको नहीं पता आप कहां से आए हैं और कहां जाएंगे| यदि आप इस बात को अच्छे से समझ ले आप devoted हो जाएंगे| उस हर चीज के आगे झुक जाएंगे जिसे आप देखते हैं| आप हर चीज को गहराई से समझने का प्रयास करेंगे|

कुछ लोग अहंकारी वह मूर्ख सिर्फ इसलिए बन गए हैं क्योंकि वह इस बात को भूल बैठे हैं कि वह कौन है और उनका existance(अस्तित्व) क्या है| वह अपने आप की खोज करना भूल गए हैं|

आसमान के छोटे छोटे दिखने वाले stars भी आपसे बहुत ज्यादा विशाल हैं| वह तो निश्चित रूप से आप से ऊंचे ही हैं| मगर सड़क पर पड़े छोटे-छोटे कंकड़ को भी सबसे ऊंचा देखने की कोशिश करें| वैसे भी वह आपसे अधिक स्थाई और अधिक स्थिर है|

यह छोटा सा दिखने वाला पत्थर भी सदियों तक शांत पड़ा रहता है| इस तरह की प्रवृत्ति इंसान में बहुत कम देखने को मिलती है| इंसान बहुत छोटी-छोटी बातों पर भी अपना धैर्य और संयम खो बैठता है |

यदि मनुष्य अपने आसपास की हर चीज को खुद से ऊंचा मानना सीख ले तो कुदरती तौर पर उसके अंदर भक्त या सेवक के भाव उत्पन्न होने लगते हैं|

आप ये भी पढ़ सकते हैं:-


Related posts

Leave a Comment